Nervous Situations से हमें बाहर कैसे निकलना हैं किसी Situations को हमें कैसे फेस करना है ?

आज हम बात करेंगे उस डर के बारे में जिसको आपने अभी-अभी देखा है लाइफ के अलग-अलग Situations में हम Nervous होते हैं  किसी Situations में हम बहुत ज्यादा Nervous हो जाते हैं किसी Situations में हम कम Nervous होते हैं 

लेकिन कभी आपने सोचा की हम Nervous क्यों होते हैं दोस्तों इस पोस्ट में आपको पता चलेगा कि हम नर्वस क्यों होते हैं ?


Nervous Situations से हमें बाहर कैसे निकलना हैं  किसी Situations को हमें कैसे फेस करना है ?
 Nervous Situations से हमें बाहर कैसे निकलना हैं  किसी Situations को हमें कैसे फेस करना है ? 

  •  किसी सिचुएशन को हमें कैसे फेस करना है ?
  • Nervous Situations से हमें बाहर कैसे निकलना हैं ?

Nervous होने की सबसे  खास और सबसे बड़ी वजह है Stress यानी कि तनाव किसी चीज को खोने का डर कहीं फेल होने का डर या लोगों के सामने शर्मिंदा होने का डर कुछ इस तरह के कारण होते हैं कि हम Stress फील करते हैं  और ना चाहते हुए भी कुछ ऐसा कर जाते हैं कि हमें शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है 

Nervous Situations से हमें बाहर कैसे निकलना हैं  किसी Situations को हमें कैसे फेस करना है
 Nervous Situations से हमें बाहर कैसे निकलना हैं  किसी Situations को हमें कैसे फेस करना है  


लेकिन आखिर ऐसे Stress का कारण क्या है.

  • किसी खास सिचुएशन में हम कहीं  Fall हो जाएं .
  • कहीं कोई हमें रिजेक्ट ना कर दें .
  • कहीं हमारा मजाक ना उड़े.

ऐसी सिचुएशन में हमारी बॉडी और हमारा दिमाग Hormonal Responses जरनेट करते हैं जिसे हम Nervous होते हैं और नर्वस फील करते हैं 


Nervous होने का नतीजा.
  •  कभी दिल की धड़कन का बढ़ना
  •  कभी सर्दियों में भी पसीना आना
  •  नर्वस की वजह से शरीर का कांपना
 ऐसे नर्वस हम कई बार फील करते हैं कई बार हम तैयारी भी करते हैं तो हम नर्वस फील करते हैं

 क्या Nervousness इतनी खतरनाक है

 दोस्तों एक बार Nervousness को समझने की कोशिश तो करें जब भी हमारा माइंड और हमारी बॉडी ऐसी ऐसी सिचुएशन में होती है जो हमारे लिए नई या फिर हमारी सोच से बाहर हैं हम उस सिचुएशन का सामना कर पाए उस सिचुएशन से बच पाए

 दोस्तों अब हम समझते हैं कि Nervousness को कैसे  सामना करना है

 ऐसी सिचुएशन में हमें कॉन्फिडेंस बनाना है और अपनी पावर को समझना होगा ऐसा नहीं है कि आपके अंदर कुछ नहीं है ऐसा कुछ नहीं है जिसे आप हासिल नहीं कर सकते अपनी पावर को अपनी पर्सनैलिटी को को इग्नोर मत करो उसको भुला मत वही आपको कॉन्फिडेंस देगा वही आपको ताकत देगा वही आपको आगे बढ़ाएगा इस प्रकार से हम इस प्रकार से हम नरवर का सामना कर सकते हैं




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ