भारत में Corona virus फैलाया जा रहा है और रोका भी जा रहा है ?

Corona virus कैसे फैलाया जा रहा है




 कोरोना वायरस फैलाने का तबलीगी जमात को बताया गया था जो कि एक धार्मिक लोग थे वह लोग सभी के लिए हिफाजत की दुआ मांगते थे क्या वह लोग कोरोना वायरस को देश में फैला सकते हैं वह लोग तो कोरोना वायरस से बचने के लिए लोगों के लिए दुआ मांगने आए थे और अपनी सोशल मीडिया ने तबलिगही जमात को कहा कि तबलीगी जमात तो कोरोनावायरस पूरे देश में फैलाने के लिए जुटी हुई है




जोकि बिल्कुल गलत था सोशल मीडिया और रिपोर्टरों को उन लोगों को बहुत बुरा भला भी कहा जो कि कहना नहीं था वह लोग तो ऐसे धार्मिक लोग हैं जो सभी के लिए दिल से दुआ मांगते हैं और अपने रब के सामने फूट-फूटकर रोते हैं दुआओं में कि आप सब लोगों का ख्याल रखें और सभी को हिफाजत रखने की दुआ मांगते थे और वह लोगों से कहते कहते फिरते थे की सभी के लिए दुआ करो और सभी कोरोना वायरस से बचे रहें इसके लिए सभी को दुआ देने थे और अपनी आवाम को यह भी कहते थे कि आप सब भी अपने देश के साथ साथ सभी देशवासियों सभी लोगों के लिए दुआ मांगो ताकि सभी महफूज रह सकें अगर ऐसे कोरोनावायरस भयंकर एग्जाम ने धार्मिक स्थल ही बंद हो जाएंगे तो लोग अपने भगवान या मालिक से कैसे दुआ मांगेंगे की हमें महफूज रखना





कोरोना वायरस को कम करने की  हमारे भारत सरकार ने दारु को यानी कि शराब को कोरोनावायरस की वैक्सीन के तौर पर शराब के ठेकों को खोल दिया है और लोग वहां पर जाकर शराब खरीद रहे हैं शायद यही कोरोना वायरस को कम करने की बेस्ट दवा हो हमारे भारत सरकार की तरफ से मेरा मानना है कि दारू इंसान के लिए सबसे खराब चीज है जो कि एक कोरोना वायरस से भी खतरनाक है कोरोनावायरस तो एक बीमारी है यह तो होती है और ठीक भी हो जाती है 



पर दारू याद शराब की ऐसी लत जोकि इंसान को कभी भी हमेशा के लिए बरबाद कर देती है दोस्तों अगर शराब या दारू की किसी को भी लत पड़ जाए वह जल्दी से शराब या दारू की लत को नहीं छोड़ सकता वह दारू या शराब को तब छोड़ सकता है जब वह मरने की कगार पर आ जाए या फिर भी वह मरने की कगार पर भी दारू मांगेगा मेरा अनुमान यह है कि जो सरकार ने धार्मिक स्थलों पर रोक लगाई है बहुत ही गलत है अगर भारत सरकार शराब के ठेकों को ऑन कर सकती है





 जोकि सभी लोगों के लिए बहुत ही नुकसानदायक है शराब के ठेके ओपन हो सकते हैं उससे अच्छा तो सरकार धार्मिक स्थलों को ओपन करें जोकि सभी धार्मिक ओं के लिए बहुत ही अच्छा होगा यह मेरा एक ओपन इ यह मेरा एक ओपन इन है यह मेरा एक राय है मैं इस पोस्ट के द्वारा किसी भी तरह का सामाजिक भेदभाव नहीं फैलाना चाहता मैं सरकार का ध्यान धार्मिक स्थलों की ओर आकर्षित करना चाहता हूं क्योंकि वहां पर लोग सच्चे मन से ईश्वर से कोरोना के बारे में प्रार्थना कर सकें शराब के ठेकों को खोलकर सरकार एक तरह की बीमारी को ही बढ़ावा दे रही है

एक टिप्पणी भेजें

2 टिप्पणियाँ

Please do not enter any spam link in the comment box.